50 हजार की रिश्वत लेते बीईओ गिरफ्तार, सहायक अध्यापिका से चाइल्ड केयर लीव (सीसीएल) मंजूर करने की एवज में ले रही थीं रिश्वत

विजिलेंस टीम ने बुधवार को शमसाबाद ब्लॉक की खंड शिक्षा अधिकारी (बीईओ) को 50 हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया। बीईओ ये रकम अपने एक सहायक अध्यापिका से चाइल्ड केयर लीव (सीसीएल) मंजूर करने की एवज में ले रही थीं। विजिलेंस कार्रवाई से विभागीय कार्यालय में अफरातफरी मच गई।

मामला शमसाबाद ब्लॉक संसाधन केंद्र का है। यहां तैनात सहायक अध्यापिका डॉ. रानी देवी ने अपने 8 वर्षीय बेटे की देखरेख को सीसीएल का प्रार्थना पत्र 17 जनवरी को बीईओ पूनम चौधरी को दिया था। रानी का आरोप है कि बीईओ ने उससे छुट्टी स्वीकृत करने के लिए पहले एक लाख फिर 60 हजार रुपये मांगे। असमर्थता जताने पर भी बीईओ 50 हजार रुपये से कम पर राजी नहीं हुईं। इस पर रानी देवी ने अधिकारी को सबक सिखाने की ठानी। उन्होंने आठ फरवरी को विजिलेंस कार्यालय पहुंचकर शिकायत दर्ज कराई। पड़ताल के बाद विजिलेंस को कार्रवाई के लिए शासन से भी 10 फरवरी को अनुमति मिल गई। बुधवार सुबह 11 बजे सीओ विजिलेंस बलधारी सिंह ने टीम के साथ शमसाबाद ब्लॉक संसाधन केंद्र पर अपना जाल बिछाया। इधर, रानी 50 हजार रुपये लेकर बीईओ पूनम चौधरी के कार्यालय पहुंच गईं। बीईओ ने जैसे ही रकम पकड़ी, विजिलेंस टीम ने उन्हें दबोच लिया। पूनम चौधरी भागने की कोशिश की, तभी सहायक अध्यापिका पक्ष के लोगों ने उन्हें घेर लिया। दोनों पक्षों में धक्का-मुक्की हुई।

’चाइल्ड केयर लीव मंजूर करने को अध्यापिका से ले रही थीं रिश्वत ’एक लाख की थी डिमांड, 50 हजार रुपये हुए थे तयबीईओ पूनम चौधरी पर भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया है।अरविंद मौर्य , एसपी विजीलेंस

50 हजार की रिश्वत लेते बीईओ गिरफ्तार, सहायक अध्यापिका से चाइल्ड केयर लीव (सीसीएल) मंजूर करने की एवज में ले रही थीं रिश्वत Reviewed by Ram Krishna mishra on 6:52 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.