बिखरी हुई स्कूली शिक्षा को एकीकृत करने का काम शुरू, नर्सरी से 12वीं तक दी जाएगी एक जैसी शिक्षा

बिखरी हुई स्कूली शिक्षा को एकीकृत करने का काम शुरू हो गया है। इसका सबसे बड़ा फायदा बच्चों को मिलेगा, जिन्हें अब नर्सरी से 12वीं तक एक जैसी शिक्षा मिलेगी। अभी स्कूली शिक्षा अलग-अलग स्तरों में बंटी हुई है। ऐसे में इसकी निगरानी से पाठ्यक्रम तक तैयार करने का जिम्मा प्रत्येक स्तर पर अलग-अलग हाथों में होता है।

स्कूली शिक्षा को एकीकृत करने की घोषणा सरकार ने बजट में की थी। इस पहल के तहत स्कूली शिक्षा का हिस्सा नर्सरी भी होगा। अभी यह किसी का हिस्सा नहीं था। नर्सरी से 12वीं तक स्कूली शिक्षा के संचालन की अब एक नीति होगी। अभी इसका संचालन शिक्षा का अधिकार (आरटीई), सर्व शिक्षा अभियान (एसएसए), राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान जैसी अलग-अलग योजनाओं के तहत होता है। ऐसे में पूरी स्कूली शिक्षा के बीच कोई तालमेल नहीं बन पा रहा है। इसका असर स्कूली शिक्षा के अलग-अलग स्तरों पर दिखाई देता था। इसके चलते पांचवी से निकलने के बाद बच्चों के ड्राप आउट का प्रतिशत बढ़ जाता था। जो नौवीं तक आते-आते काफी बढ़ जाती है।

बिखरी हुई स्कूली शिक्षा को एकीकृत करने का काम शुरू, नर्सरी से 12वीं तक दी जाएगी एक जैसी शिक्षा Reviewed by राम कृष्ण मिश्र (रिक्की) on 9:21 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.