वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिये भर्ती परीक्षा को लेकर मंडलायुक्तों को किया गया सक्रिय, 68500 शिक्षक भर्ती परीक्षा पर रहेगी एसटीएफ की नजर

इलाहाबाद : परिषदीय प्राथमिक विद्यालयों के सहायक अध्यापक भर्ती परीक्षा 2018 में नकल पर प्रभावी अंकुश लगाने के निर्देश दिए गए हैं। परीक्षा के पहले ही एसटीएफ को भी सक्रिय किया गया है और वह मंडल मुख्यालयों की निगरानी कर रही है। पहली बार हो रही शिक्षक भर्ती परीक्षा के लिए सुरक्षा के खास इंतजाम किए गए हैं।


अपर मुख्य सचिव राज प्रताप सिंह सोमवार को सभी मंडलायुक्तों से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये रूबरू हुए। उन्होंने सबसे पहले मंडलायुक्तों की उपस्थिति जांची और जो कमिश्नर नहीं पहुंचे थे, उन्हें हिदायत दी कि वह इस परीक्षा की विशेष रूप से निगरानी करें। उन्होंने जिलाधिकारी और कमिश्नर से प्रश्नपत्रों की सुरक्षा को पुख्ता बनाने के लिए हर संभव कदम उठाने का निर्देश दिया, ताकि परीक्षा की शुचिता बनी रहे। इसके साथ ही शिक्षक भर्ती के लिए केंद्रों पर स्टेटिक मजिस्ट्रेट व केंद्र व्यवस्थापक तैनात करने की जानकारी ली। उन्हें बताया गया कि सभी मंडलों में परीक्षा के लिए पर्यवेक्षक लगाए गए हैं।



ज्ञात हो कि शिक्षक भर्ती परीक्षा मंडल मुख्यालयों पर होनी है। शिक्षक भर्ती परीक्षा के दौरान शिक्षा माफिया पर नकेल कसने और परीक्षा में किसी भी प्रकार की गड़बड़ी को रोकने के लिए प्रशासन की तरफ से एसटीएफ की मदद भी ली जाएगी। इस बारे में सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी डॉ. सुत्ता सिंह ने बताया कि शासन की तरफ से परीक्षा की शुचिता बनाने और सुरक्षा को ध्यान में देखते हुए हर संभव कदम उठाने का निर्देश दिया है।

वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिये भर्ती परीक्षा को लेकर मंडलायुक्तों को किया गया सक्रिय, 68500 शिक्षक भर्ती परीक्षा पर रहेगी एसटीएफ की नजर Reviewed by प्राइमरी का मास्टर on 8:24 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.