एससीईआरटी ने परीक्षा की प्रक्रिया बदली,  राजकीय व अशासकीय कालेजों में होगी बीटीसी 2015 की परीक्षा, मूल्यांकन में भी विभाग बरतेगा विशेष इंतजाम और सतर्कता

एससीईआरटी ने परीक्षा की प्रक्रिया बदली,  राजकीय व अशासकीय कालेजों में होगी बीटीसी 2015 की परीक्षा, मूल्यांकन में भी विभाग बरतेगा विशेष इंतजाम और सतर्कता।



■  तय किए प्रोफार्मा पर ही सूचनाएं देने का दिया निर्देश

परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव ने सभी जिला विद्यालय निरीक्षकों को निर्देश दिया है कि वे परीक्षा केंद्रों का निर्धारण कार्य हर हाल में 25 सितंबर तक पूरा करके सूची कार्यालय को भेजें। डीआइओएस को उनके जिले में पंजीकृत अभ्यर्थियों की सूची भी भेजी गई है। तय प्रोफार्मा पर सूचनाएं देने का निर्देश है।


★ मूल्यांकन में भी विभाग बरतेगा विशेष इंतजाम और सतर्कता

★ केंद्र व्यवस्थापक के रूप में कार्य करेगा कॉलेज का प्रधानाचार्य


 इलाहाबाद  : अब बीटीसी की सेमेस्टर परीक्षा जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान यानि डायट या फिर निजी कॉलेजों में नहीं होगी। यूपी बोर्ड की तर्ज पर प्रदेश के राजकीय व अशासकीय माध्यमिक कॉलेजों में इम्तिहान कराया जाएगा। इसकी शुरुआत बीटीसी 2015 चतुर्थ सेमेस्टर से हो रही है। परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव अनिल भूषण चतुर्वेदी ने जिला विद्यालय निरीक्षकों को केंद्र निर्धारित करने के लिए पत्र भेजा है। 




बीटीसी 2015 तृतीय सेमेस्टर का परीक्षा परिणाम चंद दिन पहले ही जारी हुआ है। कॉपियों के मूल्यांकन को लेकर इसमें भी बड़ी गड़बड़ियां सामने आई हैं। परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव को कॉपियों की स्क्रूटनी कराने का आदेश देना पड़ा है। मामले का संज्ञान लेकर राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद लखनऊ यानि एससीईआरटी निदेशक संजय सिन्हा ने बीटीसी 2015 के चतुर्थ सेमेस्टर की परीक्षा संबंधित जिलों के राजकीय इंटर कालेज, राजकीय बालिका इंटर कालेज व अशासकीय सहायता प्राप्त विद्यालयों में कराने का निर्देश दिया है। 




ज्ञात हो कि यह परीक्षा आठ से दस अक्टूबर तक होनी हैं और इसमें करीब अभ्यर्थी शामिल हो सकते हैं। हालांकि तीसरे सेमेस्टर के रिजल्ट में हजार अभ्यर्थी ही सफल हुए हैं। माना जा रहा है कि स्क्रूटनी के बाद यह संख्या और बढ़ेगी। 


■ सेमेस्टर के रिजल्ट पर उठने लगे सवाल

■ सेमेस्टर बीटीसी की परीक्षा के लिए भेजा निर्देश

■ सितंबर तक पूरा करके सूची भेजें कार्यालय

■ हजार अभ्यर्थी ही तीसरे सेमेस्टर में हुए सफल

■ अभ्यर्थी आठ से 10 अक्टूबर तक होने वाली परीक्षा में हो सकते हैं शामिल




■ पहले से ही डायटों में हो रहा है मूल्यांकन

यूपी बोर्ड की तर्ज पर परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय प्रशिक्षुओं की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन प्रदेश के डायट मुख्यालयों पर पहले से करा रहा है। इस बार मूल्यांकन में भी विभाग विशेष इंतजाम और सतर्कता बरतेगा। साथ ही परीक्षा में विशेष सख्ती होने के आसार हैं।सीसीटीवी कैमरे से होगी निगरानी 




यह भी निर्देश है कि ऐसे माध्यमिक कालेजों को ही परीक्षा केंद्र बनाया जाए जहां सीसीटीवी कैमरे, बड़े कक्ष, पर्याप्त फर्नीचर, पंखे, शौचालय आदि के बेहतर इंतजाम हो। साथ ही वहां पर परीक्षा संचालन मानव संसाधन पर्याप्त हो। उस कॉलेज का प्रधानाचार्य केंद्र व्यवस्थापक के रूप में कार्य करेगा।


एससीईआरटी ने परीक्षा की प्रक्रिया बदली,  राजकीय व अशासकीय कालेजों में होगी बीटीसी 2015 की परीक्षा, मूल्यांकन में भी विभाग बरतेगा विशेष इंतजाम और सतर्कता Reviewed by प्राइमरी का मास्टर on 7:32 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.