महापुरुषों के नाम की 15 छुट्टियां रद्द, कैबिनेट ने 15 सार्वजनिक अवकाशों को निबंधित अवकाश की श्रेणी में सम्मिलित किए जाने संबंधी प्रस्ताव को दी मंजूरी

योगी कैबिनेट का फैसला : इस दिन स्कूल-कॉलेजों में आयोजित होगी परिचर्चा, निबंध प्रतियोगिता


⚫  यूपी कैबिनेट ने 15 सार्वजनिक अवकाशों को रद्द करते हुए निबंधित अवकाश की श्रेणी में सम्मिलित किये जाने का प्रस्ताव किया मंजूर : देखें विवरण



लखनऊ : योगी सरकार की चौथी कैबिनेट की बैठक में कई अहम फैसले किए गए। संकल्प पत्र के वादे के अनुरूप भू-माफिया पर नकेल कसने के लिए एंटी भू-माफिया टास्क फोर्स गठित करने और सार्वजनिक स्थलों पर धर्म के नाम पर कब्जा रोकने की पहल के साथ ही महापुरुषों के नाम पर 15 छुट्टियां रद कर दी गई हैं। कैबिनेट ने 15 सार्वजनिक अवकाशों को निबन्धित अवकाश की श्रेणी में सम्मिलित किए जाने संबंधी प्रस्ताव को मंजूरी दी है।


मंगलवार को लोकभवन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में करीब दो घंटे चली कैबिनेट की बैठक के बाद सरकार के प्रवक्ता और ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने पत्रकारों से जानकारी साझा की। शर्मा ने बताया कि सरकार के पास काम करने के दिन कम बचते हैं क्योंकि अवकाश बढ़ गए हैं। कैबिनेट ने सार्वजनिक छुट्टियों को समाप्त कर र्निबधित अवकाश के रूप में कर दिया है। इसमें कोई भी कर्मचारी किन्हीं दो छुट्टियों को ले सकता है। यह फैसला कैलेंडर वर्ष 2017 के लिए लागू होगा।




कैबिनेट ने फैसला किया है कि महापुरुषों के जन्मदिन और बलिदान दिवस के दिन महापुरुषों के बारे में स्कूल और कालेजों में एक घंटे के लिए परिचर्चा और निबंध प्रतियोगिता होगी। सरकार ने तय किया है कि स्वाधीनता संग्राम में जितने भी क्रांतिकारी रहे हैं उनके बलिदान दिवस पर सभी शिक्षण संस्थाओं में विशेष आयोजन होंगे। सरकारी दफ्तरों में भी उस दिन अवकाश नहीं रहेगा। संस्थान अपने विवेक से इनके नाम पर कार्यालय में कार्यक्रम आयोजित कर सकेंगे। महापुरुषों की जयंती एवं पुण्यतिथि के दिन रविवार या किसी अन्य कारण से अवकाश होने की स्थिति में उसके एक दिन पूर्व उनकी याद में सभा, गोष्ठी और सेमिनार का आयोजन होगा।

महापुरुषों के नाम की 15 छुट्टियां रद्द, कैबिनेट ने 15 सार्वजनिक अवकाशों को निबंधित अवकाश की श्रेणी में सम्मिलित किए जाने संबंधी प्रस्ताव को दी मंजूरी Reviewed by Sona Trivedi on 6:11 AM Rating: 5

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.