टीईटी : जांच के बाद निरस्त हुई आपत्तियां


  • शिक्षाविदें की टीम ने व्यापक स्तर पर की जांच गलत पायीं आपत्तियां
इलाहाबाद । शिक्षक पात्रता परीक्षा (यूपी टीईटी- 2013) के जिन प्रश्नों और उनके उत्तर को लेकर बड़ी संख्या में अभ्यर्थियों ने आपत्तियां उठाई थी वह शिक्षाविदें की जांच में गलत पाई गई। ऐसे में अभ्यर्थियों की आपत्तियों को निरस्त करते हुए सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी उत्तर प्रदेश अभ्यर्थियों को उनके जवाब डाक से भेजने की तैयारी कर रहा है। संभावना है कि एक-दो दिनों में अभ्यर्थियों को डाक से उनके गलत प्रश्नों के उत्तरमिलने लगेंगे। वहीं दूसरी तरफ ऐसी उम्मीद है कि टीईटी का रिजल्ट 31 जुलाई तक घोषित कर दिया जाएगा। सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय उत्तर प्रदेश इलाहाबाद के सूत्रों ने बताया कि करीब एक हजार अभ्यर्थियों ने टीईटी-2013 के एक दर्जन से अधिक प्रश्न और उनके उत्तर को गलत बताते हुए ऑनलाइन आपत्तियां दी थी कि अगर प्रश्न और उनके उत्तर गलत है तो उसके पूरे अंक मिलने चाहिए। सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी श्रीमती नीना श्रीवास्तव ने जिन विषयों की आपत्तियां आई थी उसके निस्तारण के लिए चार शिक्षाविदें की टीम गठित की थी। शिक्षाव्दिों की टीम ने बताया कि सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय की ओर से परीक्षा के दौरान आए सभी प्रश्न सहीं थे। अभ्यर्थियों ने जिन प्रश्नों और उनके उत्तरों को गलत बताया था वह जांच में सभी सही पाए गए। सूत्रों ने बताया कि उच्च प्राथमिक के डब्ल्यू सीरीज के हिन्दी के प्रश्नपत्र में 24 प्रश्नों और उनके उत्तर पर अभ्यर्थियों ने आपत्ति दर्ज कराई थी। प्राथमिक स्तर के संस्कृत में सात प्रश्नों पर आपत्तियां थी। उच्च प्राथमिक के संस्कृत के डब्ल्यू सीरीज में 10 आपत्तियां थी।। उच्च प्राथमिक भाषा संस्कृत में नौ प्रश्नों और उनके उत्तरों पर आपत्तियां थी। यह सभी निराधार पाई गई। वहीं उच्च प्राथमिक विज्ञान में 18 आपत्तियां, प्राथमिक स्तर के उर्दू भाषा में 11, उत्तर प्राथमिक स्तर उर्दू में दो, प्राथमिक स्तर गणित में 10 और उच्च प्राथमिक स्तर गणित में तीन सवालों और उनके उत्तर गलत होने की बात अभ्यर्थियों  ने की थी लेकिन जांच में सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी द्वारा दिए गए सभी प्रश्न और उनके उत्तर सही पाए गए। अभी मनोविज्ञान और हिन्दी विषय की आपत्तियों पर उठाए गए प्रश्नों की जांच चल रही है। इस पर अभ्यर्थियों के उठाए गए प्रश्नों और उत्तर के गलत का जवाब भी सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी देने जा रहे हैं। वह सभी अभ्यर्थियों को पंजीकृत डाक से उनके प्रश्नों और उत्तर का जवाब देगा। उधर, सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी उत्तर प्रदेश श्रीमती नीना श्रीवास्तव का कहना है कि 31 जुलाई के पहले यूपी टीईटी के रिजल्ट को घोषित करने की तैयारियां अन्तिम दौर में चल रही है। (साभार-:-राष्ट्रीय सहारा)

टीईटी : जांच के बाद निरस्त हुई आपत्तियां Reviewed by BRIJESH SHRIVASTAVA on 9:36 PM Rating: 5

3 comments:

Anonymous said...

up tet 2013 ka question pepar site par load kar de

Anonymous said...

un sabhi prashnon ke sahi uttar online kiye jayen jin prasno pa aapttiya ki gai thi.

Anonymous said...

Kaiser specialist hai no galat answer sheet dete hai pahle unka tet karaya jaye kaya tet ka question paper ka koi nirdharan hai

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.